.

Wednesday, August 23, 2017

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के फायदे औऱ नुकसान | Electronic Cigarette Benefits In Hindi

author photo

आपने एक बात सुनी ही होगी कि " आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है ", अगर आप किसी चीज़ की ज़रुरत महसूस नहीं करते हैं तब तक उसका जन्म नहीं हो सकता। भारत में विदेशों की सभ्यता आती जा रही है, किसी न किसी देश से कुछ भी सीख कर खुद अमल में ला रहे हैं जिससे नुकसान और फायदे दोनों ही देखने में आते हैं।

Electronic cigarette का नाम आपने सुना है या नहीं ये मैं नहीं जानता लेकिन अगर आप इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट की पूरी जानकारी हिंदी में जानना चाहते हैं तो यहाँ आपको इसके बारे में सही और सटीक जानकारी दी जायेगी। यहाँ आपको electronic cigarette से जुडी जो जानकारी दी जायेगी, उसके बारे में जान लेते हैं।




इस आर्टिकल में आप पढेंगे [Content]:

  • Electronic cigarette (E-cigarette) क्या होती है।
  • इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के फायदे और नुकसान।
  • Normal cigarette और Electronic cigarette में difference.
  • क्या इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट से सिगरेट पीना छूट सकता है।



E- Cigarette क्या होती है:


E-Cigarette को इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट भी कहा जाता है, E-Cigarette एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो की बैटरी से चलती है, इसमें एक लिक्विड का प्रयोग किया जाता है जिसे E-liquid भी कहा जाता है| E-Cigarette में जब इस liquid को डाला जाता है तबबटन दबाने के कुछ सेकंड के बाद इससे धुआं निकलने लगता है| यही धुआं सिगरेट पीने वाले को सिगरेट पीने का अनुभव दिलाता है, और उसे लगता है जैसे वो सिगरेट ही पी रहा हो| E-Cigarette का अविष्कार पारंपरिक सिगरेट को छोड़ने के लिए किया गया था|

E-Cigarette में जो लिक्विड भरा जाता है वो कई तरह का आता है जिसमे निकोटीन की अलग अलग मात्र रहती है इसके अलवा बिना निकोटीन के भी लिक्विड मिलते हैं , और युवा वर्ग ज्यादातर फ्लेवर वाले लिक्विड का इस्तेमाल करते हैं| लेकिन कभी कभी बिना निकोटीन को प्रयोग करने वाला निकोटीन का भी इस्तेमाल करने लगता है जिससे वह इसका आदी हो जाता है|


Normal Cigarette और E-Cigarette में अंतर:


जैसा कि आप सभी जानते हैं की नार्मल सिगरेट जो कि मार्केट में आम तौर पर मिलती है, इसमें तम्बाकू के पत्ते का प्रयोग किया जाता है और इसके ऊपर के बहुत हल्का कागज लगा होता है| जब पीने वाला इसे पीता

normal cigarette vs e cigarette in hindi
है तो इसका कागज और तम्बाकू का पत्ता दोनों साथ जलते हैं, जब तम्बाकू का पत्ता और कागज जलते हैं तो उससे कार्बन का निर्माण होता है यही कार्बन हमारे फेफड़ों में धीरे धीरे जमने लगता है और टार का रूप ले लेता है| जब टार फेफड़ों में जमता है तो इससे फेफड़ों के रोम बंद हो जाते हैं और सिगरेट पीने वाला सांस का मरीज बन जाता है| इस लिए अगर देखा जाये तो नार्मल सिगरेट पीना स्वस्थ के लिए नुकसान पहुँचाने वाली है| शरीर को हानि के साथ साथ आपको पैसे से भी हानि होती है, अगर आप अच्छा खासा कमाते है तो आप पर इसका असर नहीं आता होगा, लेकिन कम कमाने वाले को   जो लोग सिगरेट को सदा के लिए छोड़ना चाहते हैं तो वो इसे अपनी मजबूत इच्छा शक्ति से छोड़ सकते हैं, और अगर वो ऐसा नहीं कर पाते हैं तो इसके लिए होम्योपैथिक दवा को लेकर भी सिगरेट को छोड़ा जा सकता है|

वहीँ अगर बात इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट की करें तो यह पारंपरिक सिगरेट के मुकाबले अलग तरह की बनी होती है यह पेन के जैसा दिखने वाला यन्त्र है जो की बैटरी से चलता है, साथ ही इसमें एक लिक्विड भी भरा जाता है जो कि अलग अलग निकोटीन की मात्रा के हिसाब से मिलता है, तो आपके हाँथ में है की आप कितना नशा करना चाहते हैं| अगर आप नशा नहीं करना चाहते हैं तो बिना निकोटीन या फ्लेवर का E-liquid ही इस्तेमाल करें|



इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के फायदे और नुकसान:


जो लोग सिगरेट के आदी हो गए हैं और इसे नहीं छोड़ना चाहते मगर इसके प्रभाव को कम या बंद करना चाहते है तो वो E-Cigarette का इस्तेमाल कर सकते हैं| E-Cigarette पीना स्वास्थ्य के लिए उतना हानिकारक नहीं है जितना की नार्मल सिगरेट या कहें की पारंपरिक सिगरेट | इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट पीने के फायदे औऱ नुकसान दोनों ही होते हैं, क्यों की यह पूरी तरह से पीने वाले पर निर्भर करता है|

जैसा की मैंने आपको ऊपर बताया है कि इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट में एक लिक्विड पड़ता है जो की निकोटीन और बिना निकोटीन दोनों तरह का आता है| अगर पीने वाला बिना निकोटीन के लिक्विड का इस्तेमाल करता है तो इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट पीने से फायदा होगा और आप नार्मल सिगरेट के जैसा ही महसूस करेंगे| लेकिन अगर आप निकोटीन की मात्रा नार्मल cigarette से भी ज्यादा कर देते हैं तो यही आपके लिए नुक्सान का कारण बन सकती है| तो यह पूरी तरह से आप पर निर्भर करता है कि आप इसका इस्तेमाल किस तरह से करते हैं|

हाल ही में हुए एक शोध से पाया गया कि जिन लोगों ने पारंपरिक सिगरेट को छोड़ने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट का इस्तेमाल करना शुरू किया है उनमे से कुछ आज पहले से से ज्यादा निकोटीन का इस्तेमाल कर रहे हैं और इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के आदी हो गए हैं, क्यों की उन्हें अब पहले से ज्यादा नशे की आदत हो गयी है और वो अधिक मात्रा वाले निकोटीन liquid का इस्तेमाल कर रहे हैं|


क्या इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट से साधारण सिगरेट छूट सकती है:


यह कह पाना कठिन है की इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट फायदा करती है या नुक्सान पहुचती है क्यों की बहुत से लोगों ने इसके इस्तेमाल से धीरे धीरे सिगरेट पीना बंद भी किया है, और आज वो ख़ुशी से अपने परिवार के साथ रहते हैं| याद रहे सिगरेट पीने से केवल आपको ही नुक्सान नहीं होता है बल्कि इसका धुआं लेने वाले हर व्यक्ति को इससे पूरी तरह से नुक्सान होता है|

आप हमेशा याद रखे सिगरेट पीने से आपकी समाज में एक अलग छवि बनेगी ही साथ ही आप अपनी संतान को भी इसे पीने के लिए प्रेरित कर रहे हैं| अगर आपका लड़का या लड़की सिगरेट या कोई अन्य प्रकार का नशा करना शुरू करता है तो आप उसे मना नहीं कर पायेंगे, और मना करेंगे भी तो शायद आपको यह सुनने को मिल सकता है " फिर आप सिगरेट क्यों पीते हैं ". अगर वह आपके सामने नहीं पिएगा तो आपसे छिप कर पीना उसके लिए कोई कठिन बात नहीं है|

आप सदैव याद रखें यह पीढी दर पीढ़ी चलता चला जाता है और आपका घर या खानदान नशेड़ियों की नज़र से देखा जाता है| बेटियों के लिए अच्छे रिश्ते और बेटों को अच्छे रिश्ते तक मिलना मुश्किल हो जाते हैं| तो क्यों न अपने और अपने परिवार की ख़ुशी के लिए सिगरेट को आज ही छोड़ दिया जाये, क्यों की यह कोई कठिन काम नहीं है, मजबूत इच्छा शक्ति से सब कुछ संभव है|

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट को पीना vaping भी कहा जाता है, और ठीक इसकी तरह ही E-Hookah भी आते हैं| अगर आप ये जानना चाहते है की इसका इस्तेमाल कैसे करें और यह कितना लाभदायक है और कितना हानिकारक है, क्या इससे साधारण सिगरेट छूट पायेगी, तो आप नीचे दी गयी इस बुक को खरीद सकते हैं जहाँ इसका इस्तेमाल करना बताया गया है|




आज के इस आर्टिकल में मैंने E-Cigarette के बारे में बहुत सी बातें बताई और आपने जाना कि इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट पीने के क्या नुक्सान हैं और क्या फायदे हैं| इसमें मैंने आपको पूरी जानकारी दी है और साथ में कुछ प्रेरणा भी देने का प्रयास किया है, अगर आर्टिकल पढ़कर अच्छा लगे तो इसे शेयर ज़रूर करें यह दूसरों को भी फायदा पहुंचा सकता है|


This post have 0 comments


EmoticonEmoticon

Next article Next Post
Previous article Previous Post

ये भी पढ़ें: